पंजाब की किसान समस्या पर यह एक बेहद मार्मिक गीत है। मूल रूप से यह गीत 2011 में रीलिज हुआ था। इसके निर्देशक और गायक थे स्वर्गीय राज बराड़।

देस हरियाणा youtube पर इसकी विडियों शेयर की गई है जो कि लोक कला मंच मुल्लांपुर पंजाब द्वारा की गई कोरियोग्राफी है।

यह प्रोग्राम कूका आंदोलन के शहीदों की याद में बठिंडा जिले के गांव महिराज में आयोजित किया गया था। इस में यह कोरियोग्राफी हुई थी।

देस हरियाणा के पाठकों से अपील है देश हरियाणा youtube चैनल को सबस्क्राइब करें और शेयर करें।

 

Related Posts

Advertisements