Advertisements

Category: आधी दुनिया

प्रेम विवाह

डा. कामिनी साहिर 

 हमारे यहां मनुष्य को सामाजिक प्राणी कहा गया है, विदेशी भाषा में इसका रूपान्तर सामाजिक पशु है। दोनों मनुष्य की परिभाषा  हेतु पर्यायवाची शब्द हैं परन्तु विदेशी शब्द यथार्थ के अधिक निकट है, उसमें वास्तविकता और विवशता

मुनाजात-ए-बेवा

अल्ताफ़ हुसैन हाली पानीपती

 

मुनाजात-ए-बेवा

(1884)

ए सब से अव्वल1 और आखिर2
जहाँ-तहाँ हाजि़र और नाजि़र3
ए सब दानाओं से दाना4
सारे तवानाओं से तवाना5
ए बाला हर बाला6 तर से
चाँद से सूरज से अम्बर से
ए समझे

सावित्रीबाई फुले : जीवन जिस पर अमल किया जाना चाहिए

7 जनवरी को दलित शोषण मुक्ति मंच (DSMM), दिल्ली ने भारत की पहली महिला शिक्षक सावित्रीबाई फुले की 187वें जन्मदिवस पर एक कार्यक्रम का आयोजन किया

7 जनवरी को दलित शोषण मुक्ति मंच (DSMM), दिल्ली

सावित्रीबाई फुले: आधुनिक भारत की प्रथम शिक्षिका

प्रमोद दीक्षित ‘मलय‘

.भारतवर्ष में 19वीं शताब्दी का उत्तरार्ध शैक्षिक, सामाजिक एवं सांस्कृतिक आंदोलनों एवं समाज में व्याप्त अस्पृश्यता, बाल विPramod Dixitवाह, सती प्रथा, कन्या भ्रूण हत्या एवं अशिक्षा के विरुद्ध लड़ाई का स्वर्णिम काल था। आज देश में शिक्षा