Advertisements

Category: विरासत

बुद्ध के सिंद्धांत और उपदेश – डा. भीमराव आंबेडकर

डा. आंबेडकर ने एक पुस्तक लिखी ‘बुद्ध अथवा कार्ल मार्क्स ‘। इसमें दोनों दार्शनिकों के सिद्धातों की तुलना की।उन्होंने यह इस उम्मीद से किया था कि इससे वर्तमान में चल रहे विमर्श पर जरूर असर पड़ेगा और क्रांतिकारी शक्तियां परंपरा

‘हम नहीं रोनी सूरत वाले’ : सावित्रीबाई फुले की कविताई     

बजरंग बिहारी तिवारी

जीवन की गहरी समझ के साथ काव्य-रचना में प्रवृत्त होने वाली सावित्रीबाई फुले (1831-1897) अपने दो काव्य-संग्रहों के बल पर सृजन के इतिहास में अमर हैं. उनका पहला संग्रह ‘काव्यफुले’ 1854 में तथा दूसरा ‘बावन्नकशी सुबोधरत्नाकर’

फरूखनगर कस्बे में स्थित शीशमहल और बावड़ी – सुभाष

फरूखनगर कस्बे में स्थित शीशमहल और बावड़ी 

हरियाणा के गुड़गांव जिले में स्थित फारुखनगर की स्थापना का श्रेय मुगलशासक फौजदार खान को जाता है। अपने शासन के दौरान कई ऐतिहासिक इमारतों का निर्माण कराया। फौजदार खान द्वारा बनवाई गई ऐतिहासिक

संतराम उदासीः जन संघर्षों व आंदोलनों का प्रेरक- प्रोफेसर सुभाष चंद्र

संतराम उदासी का संबंध पंजाबी कविता की क्रांतिकारी धारा से है। संतराम उदासी की रचनाओं में दलित कविता तथा इंकलाबी कविता के सरोकारों का संगम है। संतराम उदासी का संबंध समाज के सदियों से दलित-अछूत समझी जाने वाली जाति (महजबी