Advertisements

Category: हरियाणवी भाषा-बोली

डा. नवमीत नव – आबादी को उसकी भाषा से वंचित कर देना तो जुल्म है

मेरे कुछ साथी डॉक्टर रहे हैं जो रूस से पढ़कर आये हैं। वे बताते हैं कि वहां मेडिकल की पढ़ाई रूसी भाषा में होती है। और बहुत अच्छी होती है। या फिर चीन में, फ्रांस में या जर्मनी में। सब

1857, किस्सा सदरूद्दीन मेवाती का

सहीराम 

नौटंकी


पात्र : नट तथा नटी। दो देहाती (बार-बार उन्हीं को दोहराया जा सकता है),एक ढिढ़ोरची (दो देहातियों में एक हो सकता है या नट भी हो सकता है) और गानेवाले स्त्री-पुरूष।

(सभी संवाद तुकबंदी में हैं। उनकी अदायगी

डा. हरविन्द्र सिंह – हरियाणा में पंजाबी भाषा

भाषा विमर्श


‘पंजाबी’ शब्द से तात्पर्य पंजाब का निवासी होने से भी है और यह पंजाब-वासियों की भाषा भी है। पंजाब की यह उत्तम भाषा ‘गुरमुखी’ लिपि में लिखी जाती है।1 पंजाबी भाषा की वर्णमाला जो शारदा और टांकरी से

मेवाती लोक जीवन की मिठास – डा. माजिद

मेवाती लोक जीवन की मिठास

इत दिल्ली उत आगरा मथुरा सू बैराठ।
   काला पहाड़ की शाळ में बसै मेरी मेवात।।

                इस मेवाती दोहे में मेवात का भौगोलिक फैलाव दिल्ली से लेकर फतेहपुर सीकरी के बीच बताया गया है, जिसमें गुड़गांव,