Advertisements

Tag: हरेराम समीप

हरियाणा सृजन उत्सव – हरेराम समीप

 

Advertisements

विपिन सुनेजा ‘शायक’- हरियाणा में फलती-फूलती हिन्दी ग़ज़ल

गजल


ग़ज़ल काव्य की बड़ी ही सुंदर विधा है। गज़ल शेरों की एक लड़ी होती है। जिसके शे’र में सूक्ष्म मनोभावों की आलंकारिक अभिव्यक्ति होती है। इतिहास बताता है कि हिन्दी ग़ज़ल तो तेरहवीं शताब्दी में लिखी जाने लगी थी,